बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
May 26, 2024
दिल्ली-एनसीआर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा पीएम की जान को कोई खतरा नहीं था, अफवाह न फैलाएं भाजपा और केंद्रीय मंत्री

  • January 6, 2022
  • 1 min read
मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा पीएम की जान को कोई खतरा नहीं था, अफवाह न फैलाएं भाजपा और केंद्रीय मंत्री

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने फिरोजपुर में भाजपा की निर्धारित रैली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वापसी पर खेद व्यक्त करते हुए बुधवार को भी इस मामले में किसी भी तरह की सुरक्षा में चूक से इनकार किया है।

पंजाब के सीएम चरणजीत चन्नी ने गुरुवार को फिर दोहराया कि पांच जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई थी। एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि भाजपा और केंद्र सरकार कोई अफवाह न फैलाएं। पंजाब में पीएम की जान को कोई खतरा नहीं था। मैंने पीएम से बात करने का अनुरोध किया है। वे मेरे सम्माननीय हैं और मैं उनकी लंबी उम्र की दुआ करता हूं। पंजाब पुलिस की इसमें कोई गलती नहीं थी। एक छोटी बात का बतगंड़ बनाया जा रहा है।

चन्नी ने कहा कि फिरोजपुर रैली में 70 हजार कुर्सियां लगवाई गई थीं लेकिन वहां सिर्फ 700 लोग ही आए थे। इसमें मेरी क्या गलती है। चन्नी ने कहा कि पीएम का हुसैनीवाला जाने का कार्यक्रम नहीं था। उनके कार्यक्रम में अंतिम समय में बदलाव किया गया। हालांकि सीएम चन्नी ने कहा कि दोबारा पीएम आएं तो हम स्वागत करेंगे।

मुख्यमंत्री चन्नी ने बताया कि जब किसानों ने प्रधानमंत्री के काफिले का मार्ग अवरुद्ध किया तो उनके पास केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का फोन आया था। हालांकि चन्नी ने यह भी कहा कि जेपी नड्डा का उन्हें कोई फोन नहीं आया था। अमित शाह ने उन्हें पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी और बताया कि प्रधानमंत्री वापस जा रहे हैं। चन्नी ने कहा- ‘मैंने अमित शाह जी से कहा कि जो कुछ भी हुआ है, उसकी जांच की जाएगी।’ इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि केंद्रीय मंत्रालय से उन्हें कल रात 1 बजे भी फोन आया था और प्रधानमंत्री के मार्ग को क्लीयर करने के लिए कहा गया था। चन्नी ने कहा कि रात 3 बजे तक किसानों के बात करके हमने सारे रास्ते क्लीयर करवा दिए थे। इसके लिए हमने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया था कि उनकी मांगें मान ली जाएंगी।