बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
June 14, 2024
दिल्ली-एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

जामिया मिलिया, ऑक्सफैम इंडिया समेत 12 हज़ार से ज्यादा एनजीओ का एफसीआरआए लाइसेंस निरस्त, नहीं ले सकेंगे विदेशी चंदा

  • January 1, 2022
  • 1 min read
जामिया मिलिया, ऑक्सफैम इंडिया समेत 12 हज़ार से ज्यादा एनजीओ का एफसीआरआए लाइसेंस निरस्त, नहीं ले सकेंगे विदेशी चंदा

नई दिल्ली। एफसीआरआए लाइसेंस गंवाने वाले संस्थानों में ऑक्सफैम इंडिया ट्रस्ट, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और लेप्रोसी मिशन सहित कुल मिलाकर 12,000 से अधिक एनजीओ हैं। इनके अलावा ट्यूबरकुलोसिस एसोसिएशन ऑफ इंडिया, इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स और इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर भी इस लंबी लिस्ट में शामिल हैं। मदर टेरेसा के मिशनरीज ऑफ चैरिटी का एफसीआरआए लाइसेंस रिन्यू नहीं किए जाने के बाद देशभर में करीब 12,000 से ज्यादा गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) का एफसीआरआए लाइसेंस शुक्रवार यानी 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त हो गया।

गृह मंत्रालय ने शनिवार सुबह कहा कि 6,000+ एनजीओ में से अधिकांश ने लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए आवेदन नहीं किया था। विदेशों से दान एवं चंदा प्राप्त करने के लिए (फॉरेन कंट्रिब्यूशन रेगुलेशन एक्ट) एफसीआरआए के तहत स्वयंसेवी संगठनों को लाइसेंस लेना पड़ता है। मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि सभी एनजीओ को शुक्रवार, 31 दिसंबर से पहले एफसीआरआए नवीनीकरण के लिए आवेदन करने के लिए रिमाइंडर भेजा गया था, लेकिन कई एनजीओ ने ऐसा नहीं किया. अधिकारी ने कहा, “जब आवेदन ही नहीं किया गया तो, उन्हें अनुमति कैसे दी जा सकती है?”

एफसीआरआए लाइसेंस गंवाने वाले संस्थानों में ऑक्सफैम इंडिया ट्रस्ट, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और लेप्रोसी मिशन सहित कुल मिलाकर 12,000 से अधिक एनजीओ हैं। इनके अलावा ट्यूबरकुलोसिस एसोसिएशन ऑफ इंडिया, इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स और इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर भी इस लंबी लिस्ट में शामिल हैं। ऑक्सफैम इंडिया और ऑक्सफैम इंडिया ट्रस्ट उन गैर सरकारी संगठनों की सूची में हैं जिनके एफसीआरए की वैधता सीमा प्रमाणपत्र समाप्त हो गए हैं और उस लिस्ट में नहीं जिनके प्रमाणपत्र रद्द कर दिए गए हैं। एफसीआरआए लाइसेंस उन्हीं का रद्द किया गया है जिन्होंने या तो नवीनीकरण के लिए आवेदन नहीं किया था, या उनके नवीनीकरण अनुरोध को खारिज कर दिया गया है।

अब भारत में अब केवल 16,829 एनजीओ बचे हैं जिनके पास एफसीआरआए लाइसेंस है, जिसे 31 दिसंबर, 2021 (शुक्रवार) को 31 मार्च, 2022 तक के लिए नवीनीकृत कर दिया गया है। समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, एफसीआरआए के तहत कुल 22,762 गैर सरकारी संगठन पंजीकृत हैं और इनमें से अब तक 6500 के आवेदन को नवीनीकरण के लिए आगे बढ़ाया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 25 दिसंबर को एफसीआरए पंजीकरण के नवीनीकरण के लिए मदर टेरेसा द्वारा कोलकाता में स्थापित ‘‘मिशनरीज ऑफ चैरिटी” के आवेदन को पात्रता शर्तों को पूरा नहीं करने के कारण खारिज कर दिया था।