बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
June 20, 2024
ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

NGT सख्त, सरकारों को भू-जल संरक्षण के लिए गम्भीर हो जाना चाहिए : रंजन राना

  • September 7, 2018
  • 1 min read
NGT सख्त, सरकारों को भू-जल संरक्षण के लिए गम्भीर हो जाना चाहिए : रंजन राना

अलीगढ़| सम्पूर्ण देश में हो रहे बेहिसाब भू-जल दोहन पर एन.जी.टी. ने सख्त नाराजगी प्रकट कटे हुए केन्द्रीय भू-जल प्राधिकरण को जमकर फटकार लगायी है व केंद्र-सरकार के तीन-मंत्रालयों क्रमश:जल-संसाधन,पर्यावरण एवं कृषि विभागों को एक माह में भू-जल संरक्षण पर प्रभावी नीतिगत ढांचा बनाने के आदेश दिए हैं|
उक्त, आदेश का स्वागत करते हुए भू-जल सेना अलीगढ़ के जिला को -ऑर्डिनेटर रंजन राना ने एन.जी.टी.को धन्यवाद देते हुए कहा कि सरकारें भू-जल के प्रति केवल औपचारिकता निभा रही हैं, सम्बन्धित मंत्रालयों से लेकर स्थानीय जिला स्तर पर केवल बैठक आयोजित होती हैं व फोटो खिचने के बाद यह व्यर्थ का विषय रह जाता है,जिम्मेवार लोगों कि रूचि अब एक्स-प्रेस-वे तथा भवन निर्माण के कामों में है,जहाँ से मोटा कमीशन प्राप्त होता है, भू-जल संरक्षण भगवान भरोसे मान लिया गया है,परन्तु आज जिस प्रकार एन.जी.टी.ने आदेश पारित किया है उससे पुन: उम्मीद जगी है कि अब धरातल पर असर अवश्य दिखाई देगा |
राना ने कहा कि दिल्ली व उसके आस-पास से धान की खेती पर तत्काल रोक लगायी जाये,घर-घर लग रहे समर-पंप पर नीति बने ,सार्वजानिक जल-आपूर्ति को अनिवार्य व भरोसेमंद बनाया जाये,मिनरल वाटर-प्लांटों की बढती संख्या पर रोक लगे,उद्योग-कारखानों में दोहन नियत किया जाये तथा जगह-जगह खुल रहे धुलाई केन्द्रों पर रोक लगायी जाये|
उक्त,आदेश के बाद भू-जल सेना और उत्साह के साथ कार्य करेगी तथा प्रशासन को अवगत कराएगी और आम जन में शैक्षिक-वातावरण बनाने का पूर्ण प्रयास करेगी|