बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
May 26, 2024
उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश दिल्ली-एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़

केंद्रीय मंत्री को ब्लैकमेल करने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने पांच को गिरफ्तार किया

  • December 24, 2021
  • 1 min read
केंद्रीय मंत्री को ब्लैकमेल करने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने पांच को गिरफ्तार किया

दिल्ली पुलिस ने रंगदारी की कॉल करने के आरोप में नोएडा से 4 और दिल्ली से 1 आरोपी समेत कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को ब्लैकमेल करने के आरोप में 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। पांचों आरोपियों को दिल्ली पुलिस की टीम ने गिरफ्तार किया है। दिल्ली पुलिस ने बताया कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र के स्टाफ की तरफ से शिकायत मिली थी कि उन्हें पैसे के लिए फोन आए थे।

इस मामले में नई दिल्ली में एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। दिल्ली पुलिस ने रंगदारी की कॉल करने के आरोप में नोएडा से 4 और दिल्ली से 1 आरोपी समेत कुल 5 लोगों को गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। केंद्रीय मंत्री का बेटा आशीष मिश्रा लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी है और फिलहाल जेल में बंद है।

अपुष्ट खबरों के मुताबिक, लखीमपुर खीरी हिंसा मामले से जुड़े वीडियो के नाम पर कुछ लोग गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को फोन कर रहे थे। इसकी शिकायत उन्होंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से की थी। इस मामले में दिल्ली पुलिस ने बीपीओ में काम करने वाले 5 लड़कों को गिरफ्तार किया है। हालांकि, आधिकारिक तौर पर पुलिस ने यह जानकारी अभी साझा नहीं की है कि आरोपी केंद्रीय मंत्री को ब्लैकमेल क्यों कर रहे थे।

लखीमपुर खीरी हिंसा की जांच कर रही एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे और उसके सहयोगियों द्वारा जानबूझकर, सुनियोजित साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया था। इसके बाद से विपक्ष लगातार गृह राज्य मंत्री का इस्तीफा मांग रहा है।

विपक्ष लगातार केंद्र से अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग कर रहा है और इस मुद्दे को लेकर संसद सत्र के दौरान विपक्षी दलों के सांसदों ने जमकर हंगामा किया था। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी लगातार अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग उठाते रहे हैं।

बता दें कि लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में तीन अक्टूबर को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की यात्रा का विरोध करने के बाद किसान लौट रहे थे, तभी एक एसयूवी द्वारा कथित तौर पर उन्हें कुचल दिया गया था। आरोप है कि एसयूवी अजय मिश्रा टेनी की थी और उसमें उनका बेटा आशीष मिश्रा भी मौजूद था।