बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
May 26, 2024
ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति

रावण दलित हित के लिए राहुल-केजरीवाल से हाथ मिलाने को तैयार

  • September 15, 2018
  • 1 min read
रावण दलित हित के लिए राहुल-केजरीवाल से हाथ मिलाने को तैयार

लखनऊ| भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर उर्फ रावण ने जेल से रिहा होने के बाद यहां कहा कि यदि समाज कहेगा तो वह चुनाव भी लड़ सकते हैं। दलित हित में वह राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल से भी हाथ मिलाने को तैयार हैं। चंद्रशेखर को मिलने के शनिवार को उनके घर पर जेएनयू के प्रोफेसर केशव प्रसाद और दिल्ली के सुल्तानपुरी से विधायक संदीप वाल्मीकि पहुंचे।
शनिवार को रावण ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वह राजनीति से दूर रहना चाहते हैं लेकिन यदि समाज दबाव डालेगा तो वह चुनाव लड़ने से भी परहेज नहीं हैं। स्पष्ट कहा कि जब तक भाजपा नहीं हारेगी तब तक चैन से नहीं बैठूंगा। रावण ने कहा कि वह दो अप्रैल को दलित आंदोलन में मारे गए सभी 12 लोगों के घरों तक जाएंगे। बहुजन समाज के लिए उनका मूवमेंट चलता रहेगा। चंद्रशेखर ने दलित हित के लिये राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल से मिलने की बात भी कही है।
पुलिस ने प्रेसवार्ता को रोका–
उधर सहारनपुर के रविदास हास्टल में शनिवार को भीम आर्मी के पदाधिकारी प्रेसवार्ता कर रहे थे, तभी पुलिस ने पहुंचकर प्रेसवार्ता को रोक दिया। इस पर भीम आर्मी के पदाधिकारी भड़क गए और उनक पुलिस से काफी गहमगहमी हुई। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय रतन ने कहा कि पुलिस भीम आर्मी के मूवमेंट को दबाना चाहती है। भाजपा का दलित प्रेम महज एक दिखावा है। यदि दलितों से इतना ही प्यार था तो दलितों को जेल क्यों भेजा।
भाजपा को सत्ता से बाहर करने तक स्वागत नहीं कराऊंगा- रावण–
भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण ने जेल से रिहा होने के बाद भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा है कि जब तक वह 2019 के चुनाव में भाजपा को सत्ता से बाहर नहीं कर देंगे, तब तक कहीं पर भी अपना स्वागत नहीं कराएंगे और माला नहीं पहनेंगे। उन्होंने अपनी पहली लड़ाई का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि दो अप्रैल की हिंसा के मामले मे जेल भेजे गए दलित समाज के लोगों को न्याय दिलाने के लिए अक्तूबर के प्रथम सप्ताह से लड़ाई प्रारम्भ होगी।रावण ने कहा है कि भाजपा को सत्ता से बाहर करना उनका लक्ष्य है और इस लक्ष्य को हासिल किए बिना वह कहीं पर भी ना तो अपना कोई स्वागत कराएंगे और ना ही कोई माला पहनेंगे। भाजपा द्वारा दलित समाज के लोगों के साथ अन्याय किया गया है और इसका खामियाजा भुगतना होगा। रावण ने कहा कि वह अब पूरे देश में भीम आर्मी को स्थापित करने के लिए काम करेंगे और पूरे देश के लोगों को भीम आर्मी से जोड़ा जाएगा। किसी भी सूरत में दलित, मुस्लिम और अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा और उनकी आवाज भीम आर्मी बनेगी। चंद्रशेखर ने कहा कि को जइस देश में संविधान लाया जाता है, उन्हें बेहद अफसोस है कि 131 सांसद और 11 सौ विधायक जो देश में इस आरक्षण की वजह से ही कुर्सियों पर बैठे हैं, वह कहीं कुछ नहीं बोलते और विरोध तक नहीं करते।