बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
February 24, 2024
दिल्ली-एनसीआर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

पीएम सुरक्षा चूक, संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा- ‘पीएम की जान को खतरा’ वाली कहानी मनगढ़ंत

  • January 6, 2022
  • 1 min read
पीएम सुरक्षा चूक, संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा- ‘पीएम की जान को खतरा’ वाली कहानी मनगढ़ंत

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में बुधवार को बड़ी चूक हुई, जहां पंजाब के फिरोजपुर में बड़ी संख्या में किसानों ने पीएम का रास्ता रोक लिया। इस वजह से पीएम का काफिला 10 मिनट तक एक फ्लाईओवर पर खड़ा रहा। इसके बाद अचानक से बनाए गए रूट से पीएम एयरपोर्ट वापस लौटे। इस घटना की जिम्मेदारी भारतीय किसान यूनियन-क्रांतिकारी ने ली थी। जिसके बचाव में अब संयुक्त किसान मोर्चा भी आ गया है।

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के कहा कि 5 जनवरी को पीएम मोदी के प्रस्तावित पंजाब दौरे की खबर मिलने पर संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े 10 किसान संगठनों ने अजय मिश्रा टेनी की गिरफ्तारी और अन्य मांगों को लेकर सांकेतिक विरोध की घोषणा की थी। कुछ किसानों को पुलिस ने फिरोजपुर जिला मुख्यालय जाने से रोका तो उन्होंने कई जगह सड़कों पर बैठ कर विरोध किया। इनमें से वो फ्लाईओवर भी था जहां पीएम का काफिला आया, रुका और वापस चला गया।

एसकेएम के मुताबिक वहां के किसानों को इस बात की पुख्ता जानकारी नहीं थी कि पीएम का काफिला गुजरने वाला है। मोर्चा ने आगे कहा कि मौके के वीडियो से साफ है कि प्रदर्शन कर रहे किसानों ने पीएम के काफिले की तरफ जाने की कोई कोशिश तक नहीं की। केवल बीजेपी का झंडा और ‘नरेंद्र मोदी जिंदाबाद’ के नारे लगाता हुआ एक समूह पीएम के काफिले के पास पहुंचा था। इस वजह से पीएम की जान को खतरा वाली कहानी मनगढ़ंत है।

बीएचयू क्रांतिकारी के अध्यक्षत सुरजीत सिंह फूल ने कहा कि टेनी की गिरफ्तारी और अन्य मांगों के लिए प्रदर्शन हो रहा था। दोपहर करीब 2 बजे उन्हें पता चला कि पीएम बठिंडा से सड़क मार्ग से आ रहे हैं। रैली के पास एक बड़ा हेलीपैड था। पुलिस ने कहा कि वो सड़क मार्ग से आ रहे हैं तो हमने सोचा कि पुलिस झूठ बोल रही है। इस वजह से उन्होंने रास्ता नहीं छोड़ा। अगर उन्हें पता होता तो वो रास्ते से हट जाते।