बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
June 14, 2024
दिल्ली-एनसीआर पंजाब ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

पंजाब चुनाव: नड्डा और अमरिंदर सिंह के साथ सीट बंटवारे पर बनी सहमति, पंजाब में 65 सीटों पर चुनाव लड़ेगी बीजपी

  • January 24, 2022
  • 1 min read
पंजाब चुनाव: नड्डा और अमरिंदर सिंह के साथ सीट बंटवारे पर बनी सहमति, पंजाब में 65 सीटों पर चुनाव लड़ेगी बीजपी

नयी दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि पंजाब में एनडीए गठबंधन जो हुआ है उसमें भाजपा, पंजाब लोक कांग्रेस और संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा, हम सब मिलकर पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। भाजपा 65 सीटों पर, पंजाब लोक कांग्रेस 37 सीटों पर और 15 सीटों पर संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा चुनाव लड़ेंगे।

पंजाब विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पंजाब लोक कांग्रेस के बीच सीट बंटवारे को लेकर सहमति बन गई है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जानकारी दी कि 117 विधानसभा सीटों वाले पंजाब में भाजपा 65 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। जबकि पंजाब लोक कांग्रेस 37 सीटों पर और संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा 15 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

आपको बता दें कि भाजपा ने पंजाब लोक कांग्रेस और संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है और अमरिंदर के साथ चुनावी रणनीति भी तैयार की जा चुकी है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पंजाब में एनडीए गठबंधन जो हुआ है उसमें भाजपा, पंजाब लोक कांग्रेस और संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा, हम सब मिलकर पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। भाजपा 65 सीटों पर, पंजाब लोक कांग्रेस 37 सीटों पर और 15 सीटों पर संयुक्त अकाली दल-ढिंढसा चुनाव लड़ेंगे।

उन्होंने कहा कि पंजाब बॉर्डर पर स्थित राज्य है, देश की सुरक्षा के लिए पंजाब में स्थिर और मजबूत सरकार बनना आवश्यक है। पाकिस्तान की हरकतें हमारे देश के लिए कैसी रही हैं, ये हमें मालूम है। हमने वहां पर देखा है कि ड्रग्स की और हथियारों की स्मगलिंग का प्रयास वहां होता रहता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश बहुत तीव्र गति से आगे बढ़ रहा है। इसको डीरेल करने का कुत्सित प्रयास, देशविरोधी ताकतें करती हैं। इस डीरेल में पंजाब के थ्रू एक्टीविटी हो ये देशविरोधी ताकतों की हमेशा मंशा रहती है।

जेपी नड्डा ने कहा कि ये चुनाव सिर्फ सत्ता परिवर्तन का ही माध्यम नहीं है, सरकार बदलना ही इस चुनाव का उद्देश्य नहीं है। ये चुनाव आने वाली पीढ़ियों को सुरक्षित करने के लिए और पंजाब को स्थिरता देने के लिए है। पंजाब सुरक्षित रहता है तो देश सुरक्षित रहता है। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए पंजाब के लोगों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है, पंजाब ने देश को जो खाद्य सुरक्षा दी है, उसे भी देश कभी भूल नहीं सकता। पंजाब ने हमारी आशाओं को हमेशा पूरा किया है।