बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
February 24, 2024
उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

यूपी विधानसभा चुनाव: चुनाव एलान के दो दिन बाद राहुल गांधी का बयान आया, बोले- नफरत को हराने का सही मौका

  • January 11, 2022
  • 1 min read
यूपी विधानसभा चुनाव: चुनाव एलान के दो दिन बाद राहुल गांधी का बयान आया, बोले- नफरत को हराने का सही मौका

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में सात चरणों में चुनाव होंगे। 10 फरवरी को पहले फेज की वोटिंग होगी। इसके बाद 14, 20, 23, 27 फरवरी, तीन और सात मार्च को वोट पड़ेंगे। चुनाव की तिथियां घोषित होने के बाद सियासी हलचलें और भी तेज हो गईं हैं। 403 विधानसभा सीट वाले इस प्रदेश में सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। राजनीतिक बयानबाजी से नेता एक-दूसरे पर निशाना साध रहे। चुनावी वादों की भी बौछार होने लगी है। धरना-प्रदर्शन भी खूब होने लगे हैं।

चुनाव आयोग ने शनिवार आठ जनवरी को उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में चुनाव के लिए तिथियों का एलान कर दिया है। 10 फरवरी से शुरू होकर तीन मार्च तक सात चरणों में वोट पड़ेंगे। आयोग की घोषणा के दो दिन बाद राहुल गांधी का चुनाव को लेकर बयान आया है। उन्होंने हैशटैग इलेक्शन 2022 के साथ ट्विट किया, ‘नफरत को हराने का सही मौका है।’

कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव रहे सहारनपुर के इमरान मसूद ने सपा में जाने की अटकलों से सोमवार को विराम दे दिया। उन्होंने शहर के अंबाला रोड स्थित अपने आवास पर आयोजित समर्थकों की बैठक में समाजवादी पार्टी में जाने की घोषणा कर दी। इमरान मसूद ने आठ साल बाद सपा में वापसी की है। उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को एक और झटका लगा है। बदायूं जिले के बिल्सी से भाजपा विधायक राधा कृष्ण शर्मा ने समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर ली है। भाजपा विधायक के पार्टी में शामिल होने की जानकारी देते हुए समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया है। इस ट्वीट में लिखा है, ‘राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में आस्था जताते हुए बदायूं, बिल्सी से भाजपा विधायक राधा कृष्ण शर्मा जी ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक टीवी इंटरव्यू में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने बताया कि जल्द ही राहुल गांधी यूपी समेत पांचों राज्यों में चुनाव का प्रचार करेंगे। प्रियंका ने कहा, ‘मैंने खुद भइया के लिए प्रोग्राम बनाया है। वह युवाओं के लिए बड़ा एलान करेंगे। इसकी प्लानिंग हो चुकी है।’ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने एक टीवी चैनल को इंटरव्यू दिया। इसमें उनसे पूछा गया कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के कितने विधायकों का टिकट कटेगा? इसका जवाब देते हुए स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि टिकट पर भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति फैसला लेती है। इसमें प्रदेश अध्यक्ष की भूमिका नहीं होती है।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने बड़ा बयान दिया है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर के साथ भाजपा के साथ गठबंधन के कयासों को उन्होंने खारिज कर दिया है। कहा कि राजभर को मनाने की कोई कोशिश नहीं चल रही है। भाजपा अपने गठबंधन के दोनों पार्टियों के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने 2017 में जो वादे किए थे, उसे पूरा नहीं किया गया। महंगाई, रोजगार से हर कोई परेशान है। भाजपा सरकार से जनता की मुश्किलें बढ़ गईं हैं। इनके सांसद-विधायक कूटे जा रहे हैं। लोग इनके नेताओं को गांवों में घुसने नहीं दे रहे।

जो व्यक्ति 12 बजे सोकर उठता हो। उठने के बाद भी एक व्यक्ति उनका मुंह धोने के लिए खड़ा होता हो। फिर उनके मालिश के बाद उन्हें स्नान कराओ और दो बजे लंच कराओ। फिर उनकी साइकिल चलाने का वक्त हो जाता है। कभी-कभी नाम का प्रभाव होता है। आप बचपन में जिस नाम से पुकार लेंगे, उसका जीवनभर प्रभाव रहता है। कुछ लोग जिंदगी भर बबुआ ही रहते हैं। वह प्रौण बनना ही नहीं चाहते हैं। अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले बलिया के बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने रविवार को सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) प्रमुख ओमप्रकाश राजभर को राजनीतिक लोमड़ी बताया। वो रविवार को जिला अस्पताल में एक मरीज को देखने पहुंचे थे।

मीडिया से बातचीत में कहा कि ओमप्रकाश कोई भी पार्टी बुलाए वहां चले जाते हैं। जो गंगा जल में स्नान करके पोखरे में स्नान करने का मन में ठान लिया है वो राजनीतिक परिपक्व नहीं कहा जा सकता। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ओमप्रकाश राजभर भूले भटके चले गए हों तो फिर से गंगा में स्नान कर लें, पोखरे में नहाने की जरूरत नहीं पड़ेगी