बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
May 26, 2024
जम्मू-कश्मीर ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी का शानदार नज़ारा, देखें इन तमाम तस्वीरों के माध्यम से जो वायरल हो रही हैं

  • January 9, 2022
  • 1 min read
जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी का शानदार नज़ारा, देखें इन तमाम तस्वीरों के माध्यम से जो वायरल हो रही हैं

श्रीनगर। जम्मू और कश्मीर में भारी बर्फबारी के बाद मौसम का हाल वहां बहुत खराब है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) विभाग ने शनिवार (08 जनवरी) सुबह कहा कि जम्मू-कश्मीर में आज शाम से बर्फबारी और बारिश की गतिविधि में कमी आएगी और रविवार से महत्वपूर्ण सुधार देखा जाएगा।

हालांकि, खराब मौसम को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। जम्मू और कश्मीर में मौसम को देखते हुए कई विमानें रद्द कर दी गई है और कई उड़ानों में देरी हो रही है। श्रीनगर हवाई अड्डे के अधिकारियों का कहना है कि लगातार बर्फबारी के कारण 6 आउटबाउंड उड़ानें रद्द कर दी गई हैं।

जम्मू और कश्मीर हवाई अड्डे के अधिकारियों का कहना है कि क्षेत्र में लगातार बर्फबारी के कारण श्रीनगर हवाई अड्डे पर दृश्यता 500 मीटर तक कम हो गई है। श्रीनगर हवाईअड्डे ने ट्विटर पर कहा, “निरंतर बर्फबारी ने हमारे हवाई अड्डे पर दृश्यता कम कर दी है।

बर्फबारी 11 बजे तक जारी रहने की संभावना है। सभी कार्यों में देरी होगी। कृपया हमारे साथ रहें। हमने कई विमानें रद्द कर दी हैं और कई उड़ानों में देरी हो रही है।”

आईएमडी ने घाटी में लोगों से हिमस्खलन संभावित क्षेत्रों में उद्यम नहीं करने के लिए कहा है क्योंकि इसके आंकड़ों से पता चलता है कि आपदा ज्यादातर भारी बर्फबारी से होती है। लोगों को ट्रैफिक एडवाइजरी का पालन करने और अपने कमरों के अंदर उचित वेंटिलेशन बनाए रखने की भी सलाह दी गई है।

वहीं जम्मू और कश्मीर के कटरा में माता वैष्णो देवी मंदिर में बर्फबारी की वजह से यात्रा प्रभावित हो रही है। शनिवार सुबह माता वैष्णो देवी मंदिर में ताजा हिमपात की सूचना है। वैष्णो देवी मंदिर में बर्फबारी की वजह से बैटरी कार, हेलीकॉप्टर सेवाएं निलंबित हैं। हालांकि पैदल यात्रा जारी है।

जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग के साथ उधमपुर और रामबन जिलों में भारी बारिश-बर्फबारी हो रही है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए कड़ी व्यवस्था की गई है। लगातार बारिश के कारण शनिवार को कई जगहों पर हुए भूस्खलन से जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग बंद हो गया, जिससे 3,000 से ज़यादा वाहन वहां फंस गए। शनिवार को लगातार तीसरा दिन था जब भारी बारिश के कारण वाहनों को अनुमति नहीं दी गई।

अधिकारियों ने कहा कि 1,000 से अधिक वाहनों को हटाया गया है, जिसके बाद रामबन जिले में कई स्थानों पर भूस्खलन और पत्थर गिरने से राजमार्ग फिर से अवरुद्ध हो गया। बारिश-बर्फबारी की वजह से एक बार फिर कश्मीर घाटी दूसरे राज्यों से हवाई व मार्ग से कट गई है ।

मौसम विभाग ने 9 जनवरी तक इसी तरह भारी बर्फबारी व बारिश की संभावना जाहिर करते हुए रेड अलर्ट भी जारी कर रखा है।

उन्होंने कहा, ‘जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग के साथ उधमपुर और रामबन जिलों में भारी बारिश हो रही है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए कड़ी व्यवस्था की गई है।’ विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘राजमार्ग पर फंसे सभी वाहन सुरक्षित स्थानों पर खड़े हैं।’ रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि राजमार्ग के पटनीटॉप और बनिहाल इलाकों में बर्फबारी जारी है। राजमार्ग बंद होने से अक्सर घाटी में जमाखोरी और कालाबाजारी होती है।

गौरतलब है कि पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों को बर्फबारी के दौरान घरों से बाहर निकलने के लिए मना किया गया है। यही नहीं बारिश के दौरान पहाड़ी इलाकों की यात्रा पर न निकलने की हिदायत ट्रैफिक विभाग ने भी दे रखी है।

श्रीनगर में लगातार बर्फबारी होने से दृश्यता बहुत कम हो गई है. ऐसे में हवाई अड्डे पर न तो जहाजों को उतारा जा सकता है और न ही यहां से फ्लाइट को रवाना किया जा सकता है। एयरपोर्ट प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार आज दस फ्लाइट्स रद कर दी गई हैं।