बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
May 26, 2024
दिल्ली-एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय हिमाचल प्रदेश

हिमाचल से मोदी सरकार और BJP पर बरसीं अलका लांबा, कहा- ‘अडानी के मुद्रा पोर्ट पर मिली हजारों करोड़ की हीरोइन मामले की हो न्यायिक जांच’

  • September 30, 2021
  • 1 min read
हिमाचल से मोदी सरकार और BJP पर बरसीं अलका लांबा, कहा- ‘अडानी के मुद्रा पोर्ट पर मिली हजारों करोड़ की हीरोइन मामले की हो न्यायिक जांच’

शिमला | कांग्रेस की प्रवक्ता और चर्चित नेत्री अलका लांबा बुधवार को शिमला में मोदी और प्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर बरसीं | नशे को लेकर भाजपा को घेरा और चीन को लेकर मोदी सरकार को कठघड़े में खड़ा किया | कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर देश-प्रदेश में नशे के कारोबार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने महंगाई, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था और देश की सुरक्षा को लेकर सरकार को विफ़ल करार दिया। उन्होंने गुजरात के मुद्रा पोर्ट पर मिली हजारों करोड़ की हीरोइन मामले की न्यायिक जांच की मांग उठाई है। पंजाब में राजनीतिक उठापटक और सिद्धू के इस्तीफ़े पर सवालों को टालते हुए अलका लांबा ने कहा कि ये पार्टी का आंतरिक मामला है।

राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने कहा कि केंद्र सरकार में हिमाचल के दो बड़े चेहरे नड्डा और अनुराग ठाकुर बैठे हुए हैं। उनके प्रधानमंत्री मोदी के मित्र अडानी के पोर्ट पर 3 हजार किलोग्राम हेरोइन पकड़ा गया है। जिसकी सप्लाई हिमाचल तक पंहुच गई। हिमाचल पुलिस ने भी 3 सौ किलो ड्रग्स पकड़ा है। प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ रही है। ऐसे में बेरोजगार लोगों को नशे का शिकार बनाया जा रहा है। प्रदेश में 30 अक्टूबर को होने वाले उपचुनावों में प्रदेश की जनता को इसका जवाब देना है। मोदी सरकार के दौरान पुलवामा हमले में आरडीएक्स कहां से आया सरकार इसका जवाब अभी तक नहीं दे पाई।

अलका लांबा ने बड़ा आरोप लगाया कि मीडिया में हजारों करोड़ की ड्रग्स की खबरे रुकवा दी गईं यह शर्मनाक है | उन्होंने कहा कि मोदी और हिमाचल की भाजपा सरकार नशे के माफियाओं को संरक्षण दे रही है | प्रदेश में डबल इंजन की सरकार ने रोजगार देने के बजाए नशे को बढ़ावा दिया है। शिमला पुलिस ने जनवरी से सितंबर तक नशे के खिलाफ 187 मामले दर्ज किये है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी लेकिन इसमें सफल न होने पर देश में नशे का कारोबार बढ़ाया जा रहा है ताकि युवा रास्ते से भटक जाए और अपना हक न मांग सके। कांग्रेस पार्टी सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के अधीन आयोग बनाकर से इस सारे प्रकरण की जांच की मांग करती है।