बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
April 23, 2024
उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

अपनी ही सरकार के खिलाफ वरुण गांधी हमलावर हुए, पुलिस की ‘कथित ज्‍यादती’ पर उठाए सवाल

  • December 10, 2021
  • 1 min read
अपनी ही सरकार के खिलाफ वरुण गांधी हमलावर हुए, पुलिस की ‘कथित ज्‍यादती’ पर उठाए सवाल

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से बीजेपी नेता और सांसद वरुण गांधी ने एक बार फिर अपने ही सरकार पर निशाना साधा है। पिछले काफी दिनों से वरुण गांधी लगातार ट्वीट के जरिए बीजेपी सरकार को सवालों के घेरे में लेते नजर आ रहे हैं। एक बार फिर वरुण गांधी ने ट्वीट के जरिए राज्‍य की योगी सरकार और पुलिस की कथित निरंकुशता पर हमला किया है।

सांसद वरुण गांधी ने इस बार कानपुर देहात की उस घटना का जिक्र करते हुए एक वीडियो शेयर किया है जिसमें गोद में बच्चे को लिए शख्स पर कानपुर देहात पुलिस बर्बरता से लाठी बरसा रही है। वरुण गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा कि, ‘सशक्त कानून व्यवस्था वह है जहां कमजोर से कमजोर व्यक्ति को न्याय मिल सके। यह नहीं कि न्याय मांगने वालों को न्याय के स्थान पर इस बर्बरता का सामना करना पड़े, यह बहुत कष्टदायक है। भयभीत समाज कानून के राज का उदाहरण नहीं है। सशक्त कानून व्यवस्था वो है जहां कानून का भय हो, पुलिस का नहीं।’

दरअसल, वरुण ने जो वीडियो पोस्‍ट किया है, वह कानपुर के देहात इलाके का बतायाजा रहा है। बच्चे को गोद में लिए एक शख़्स पर पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाईं। पुलिस ने न सिर्फ इस शख्‍स पर लाठियों से हमला किया, बल्कि उसके बच्चे को भी छीनने की कोशिश हुई। पुलिस का दावा है कि इस शख्स ने एक इंस्पेक्टर के हाथ पर काट लिया था। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा है कि दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। कानपुर देहात के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक घनश्याम चौरसिया ने घटना को लेकर बताया कि कुछ लोग इलाके में अराजकता फैला रहे थे, अस्पताल की ओपीडी को बंद कर रहे थे और मरीजों को डरा रहे थे।

हमने उन्हें रोकने के लिए हल्का बल प्रयोग किया. वहीं एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अरुण कुमार सिंह ने माना कि युवक पर अत्यधिक बल प्रयोग किया गया था। हालांकि, उन्होंने कहा कि वह आदमी अस्पताल में निर्माण कार्य को रोकने की कोशिश कर रहा था. जब पुलिस ने हस्तक्षेप करने और उसे रोकने की कोशिश की, तो उसने एक पुलिस निरीक्षक का हाथ काट दिया।