बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
June 14, 2024
उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश दिल्ली-एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

वित्त मंत्री सीतारमण को कांग्रेस ने घेरा, प्रियंका बोलीं- ये प्रदेश की जनता का अपमान

  • February 2, 2022
  • 1 min read
वित्त मंत्री सीतारमण को कांग्रेस ने घेरा, प्रियंका बोलीं- ये प्रदेश की जनता का अपमान

नई दिल्ली। निर्मला सीतारमण ने बजट के बाद हुई प्रेसवार्ता के दौरान एक जवाब में कहा कि यह बिल्कुल ‘यूपी टाइप’ जवाब है। उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी से भागने वाले सांसद के लिए इतना ही काफी है। बजट पेश करने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के ‘यूपी टाइप’ बयान पर सियासत शुरू हो गई है। चुनावी मौसम में ऐसे बयान पर कांग्रेस ने कहा है कि वित्त मंत्री ऐसा कहकर यूपी की जतना का अपमान कर रहीं हैं। उन्होंने यूपी के लोगों को बजट में कुछ नहीं दिया है, कम से कम प्रदेश की जनता का अपमान तो न करें।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने निर्मला सीतारमण पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा- ‘ निर्मला सीतारमण जी आपने यूपी के लिए बजट के झोले में कुछ डाला नहीं, ठीक है…लेकिन यूपी के लोगों का इस तरह अपमान करने की क्या जरूरत थी? समझ लीजिए, यूपी के लोगों को ‘यूपी टाइप’ होने पर गर्व है। हमको यूपी की भाषा, बोली, संस्कृति व इतिहास पर गर्व है।’

वित्त मंत्री की इस टिप्पणी के बाद कांग्रेस ने ट्विटर पर ही #यूपीमेरा अभिमान की शुरुआत भी कर दी। यूपी कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर लिखा गया निर्मला सीतारमण ने अपने शर्मनाक बयान से न सिर्फ यूपी के बौद्धिक इतिहास और चेतना को, बल्कि समूचे प्रदेश की जनता को अपमानित किया है। यूपी की जनता इस अपमान का बदला जरूर लेगी।

दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बजट पर निशाना साधते हुए कहा था कि मोदी सरकार का बजट शून्य है। इसमें सैलरी क्लास, मिडिल क्लास, गरीब-वंचित, युवाओं, किसानों और एमएसएमई सेक्टर के लिए कुछ भी नहीं है। बजट बाद हुई प्रेसवार्ता में निर्मला सीतारमण ने राहुल गांधी की टिप्पणी का जवाब वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी से देने को कहा। इस पर चौधरी ने कहा कि राहुल गांधी को बजट समझ में नहीं आया है। बजट में सभी सेक्टर्स के लिए घोषणाएं की गई हैं।

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी के जवाब को आगे बढ़ाते हुए सीतारमण ने कहा, ‘चौधरी ने टिपिकल यूपी टाइप जवाब दिया है। मुझे लगता है यूपी से भागने वाले सांसद(राहुल गांधी) के लिए इतना ही काफी है। राहुल ने जिन कैटेगरी का जिक्र किया है, उनके बारे में मैनें बजट में कुछ न कुछ कहा है।’ वित्त मंत्री यहीं नहीं रुकीं, आगे कहा कि मुझे उस पार्टी पर दया आती है, जिसके पास एक ऐसा नेता है, जो केवल टिप्प्णी करना जानता है। मैं आलेचना झेलने के लिए तैयार हूं, लेकिन उनसे नहीं जो बिना होम वर्क किए आते हैं।