बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
March 4, 2024
अंतरराष्ट्रीय ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय

भारतीय दूतावास की तीसरी एडवाइजरी, यूक्रेन से फौरन निकलें भारतीय, जानिए सरकार का प्लान?

  • February 22, 2022
  • 1 min read
भारतीय दूतावास की तीसरी एडवाइजरी, यूक्रेन से फौरन निकलें भारतीय, जानिए सरकार का प्लान?

नई दिल्ली। यूक्रेन और रूस के बीच बढ़ते तनाव के बीच यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने मंगलवार 22 फरवरी को भारतीय छात्रों को फौरन यूक्रेन से बाहर निकलने को कहा है। भारतीय दूतावास ने कहा है कि, विश्वविद्यालयों द्वारा ऑनलाइन कक्षाओं की पुष्टि की प्रतीक्षा करने के बजाय भारतीय छात्र फौरन देश लौटें।

यूक्रेन स्थिति भारतीय दूतावास ने एक और एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि, ”भारतीय दूतावास को बड़ी संख्या में कॉल आ रहे हैं, कि मेडिकल विश्वविद्यालयों द्वारा ऑनलाइन कक्षाओं की पुष्टि के बारे में पूछा जाए। इस संबंध में, जैसा कि पहले बताया गया है, भारतीय छात्रों के लिए शिक्षा प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करने के लिए, भारतीय दूतावास संबंधित अधिकारियों के साथ संपर्क में है। छात्रों को उनकी सुरक्षा के हित में, विश्वविद्यालयों से आधिकारिक पुष्टि की प्रतीक्षा करने के बजाय अस्थायी रूप से यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी जाती है।”

कीव स्थिति भारतीय दूतावास द्वारा जारी यह तीसरी एडवाइजरी थी। 20 फरवरी को एक एडवाइजरी में भारतीय दूतावास ने कहा था कि, “यूक्रेन में स्थिति के संबंध में निरंतर उच्च स्तर के तनाव और अनिश्चितताओं को देखते हुए, सभी भारतीय नागरिक, जिनका यूक्रेन में ठहरना जरूरी नहीं है, उन्हें अस्थाई तौर पर फौरन यूक्रेन से निकलने की सलाह दी जाती है।” इसके साथ ही भारतीय दूतावास ने अपने 20 फरवरी के एडवाइजरी में भी सभी भारतीय छात्रों को अस्थायी रूप से यूक्रेन छोड़ने की सलाह दी थी। इससे पहले 15 फरवरी को भी भारतीय दूतावास ने भारतीय नागरिकों को यूक्रेन से स्वदेश लौटने को कहा था। रूस-यूक्रेन संकट के बीच भारतीयों को वापस लाने वाली यूक्रेन के लिए एयर इंडिया की तीन उड़ानों में से पहली फ्लाइट मंगलवार सुबह 7:36 बजे नई दिल्ली के आईजीआई हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी।

यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए भारत सरकार फिलहाल तीन विशेष विमानों का संचालन कर रही है और मंगलवार को एयर इंडिया की फ्लाइट संख्या AI1947 ने यूक्रेन के लिए उड़ान भरी है। वहीं, इस हफ्ते में गुरुवार और शनिवार को भी दो और उड़ानों को यूक्रेन से लोगों को वापस लाने के लिए भेजा जाएगा। भारत सरकार द्वारा 256 सीटों वाली बोइंग 787 ड्रीमलाइनर फ्लाइट का यूक्रेन के लिए संचालन किया जा रहा है, जिसके मंगलवार शाम तक कीव के बॉरिस्पिल हवाई अड्डे पर पहुंचने और वहां से भारतीय नागरिकों को निकालने की उम्मीद है।

हां, एयर इंडिया ने कहा है कि इन उड़ानों पर बुकिंग के लिए एयर इंडिया के बुकिंग कार्यालयों, इसकी आधिकारिक वेबसाइट, कॉल सेंटर और अधिकृत ट्रैवल एजेंटों के माध्यम से लोग टिकट बुक करा सकते हैं। रूस के साथ बढ़ते तनाव के बीच भारत ने रविवार को यूक्रेन में दूतावास के अधिकारियों के परिवार के सदस्यों के साथ-साथ उन छात्रों और नागरिकों को पूर्वी यूरोपीय देश छोड़ने के लिए कहा, जिनका यूक्रेन में रहना महत्वपूर्ण नहीं है। छात्रों और अन्य नागरिकों के लिए निर्देश लगातार कीव स्थिति भारतीय दूतावास के जरिए दिया जा रहा है और भारतीय दूतावास ने भारतीय छात्रों से लगातार संपर्क कर रही है। यूक्रेन में करीब 20 हजार से ज्यादा छात्र रहते हैं और भारत की कोशिश है कि, इससे पहले की स्थिति खराब हो, वो अपने नागरिकों को सुरक्षित भारत ले आए।