बेबाक, निष्पक्ष, निर्भीक
June 16, 2024
उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश दिल्ली-एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

स्वामी प्रसाद मौर्या ने दिया कैबिनेट से इस्तीफा, अखिलेश यादव ने साथ में शेयर की तस्वीर

  • January 11, 2022
  • 1 min read
स्वामी प्रसाद मौर्या ने दिया कैबिनेट से इस्तीफा, अखिलेश यादव ने साथ में शेयर की तस्वीर

लखनऊ। भाजपा सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है। पिछले लंबे समय से ये संभावनाएं बन रही थी कि स्वामी प्रसाद मौर्या भाजपा छोड़ सकते हैं। इस कयासों पर मोहर लग गई है और स्वामी प्रसाद मौर्या ने इस्तीफा दे दिया है।

इस्तीफा देने के साथ ही स्वामी प्रसाद मौर्या ने सपा ज्वाइन कर ली है। स्वामी प्रसाद मौर्या की फोटो को ट्वीट करते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लिखा है कि आप का सपा में स्वागत है। बीजेपी विधायक रौशन लाल वर्मा इस्तीफा लेकर राजभवन पहुंचे हैं।

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा सरकार के एक बड़े मंत्री ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने इस्तीफा दे दिया है। जानकारी के मुताबिक, उन्होंने अपना इस्तीफा राज्यपाल को भेजा है। वहीं, इस्तीफे की खबर के कुछ देर बाद ही समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्विटर पर मौर्या के साथ एक तस्वीर शेयर किया है।

अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ”सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता स्वामी प्रसाद मौर्या एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन! सामाजिक न्याय का इंक़लाब होगा ~ बाइस में बदलाव होगा।”

सूबे में होने जा रहे चुनाव से पहले स्वामी प्रसाद मौर्या का इस्तीफा सत्ताधारी दल भाजपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। एक तरफ, दिल्ली में यूपी चुनाव को लेकर भाजपा की बैठक हो रही है, वहीं दूसरी तरफ स्वामी प्रसाद मौर्या के इस्तीफे ने सत्ताधारी दल के खेमे में खलबली मचा दी है। माना जा रहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्या काफी समय से नाराज चल रहे थे।

अखिलेश यादव के ट्वीट के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि मौर्या समाजवादी पार्टी में शामिल होने जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, मौर्या के साथ उनके कई समर्थक भी सपा में शामिल हो सकते हैं। स्वामी प्रसाद मौर्या के साथ कई अन्य विधायक भी भाजपा का साथ छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। एक हालांकि,इसको लेकर कोई आधिकारिक नाम अभी सामने नहीं आया है। लेकिन पिछले समुदाय के बीच गहरी पकड़ रखने वाले मौर्या का चुनाव से पहले खेमा बदल लेना भाजपा के लिए बड़े झटके के तौर पर देखा जा रहा है।